1 min read

रटौल प्रधान ने गरीबों को इंसाफ दिलाने के लिए मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

बागपत। विवेक जैन

भूमाफियाओं के ईशारे पर कार्यवाही करने का लगाया आरोप

रटौल निवासी प्रधान नसरीन जाकिर ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को एक पत्र भेजा और उनसे गांव में गरीब लोगों के मकान ना तोड़े जाने की मांग की।

नसरीन जाकिर ने मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में बताया कि नवगठित नगरपंचायत रटौल में तालाब के समीप लगभग एक एकड़ भूमि पूजाया ग्राम समाज की है। इस भूमि का कोई सम्बन्ध जलमग्न या तालाब से नहीं है। उक्त भूमि पर 40-50 वर्षों से भूमिहीन,आवासविहीन गरीब असहाय लोगों का कब्जा चला आ रहा है, उसमें उन्होंने अपनी झोंपड़ी व कच्चे, पक्के खंडहर टाइप के मकान बनाये हुए हैं। इन लोगों के विरुद्ध कभी किसी अधिकारी द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई।

बताया कि अब तालाबों का अतिक्रमण हटाने के नाम पर बिना किसी पूर्व नोटिस के रटौल लेखपाल ने इनके मकानों पर जेसीबी लगाकर चेतावनी दी कि या तो दो दिन में अपने मकान खुद तोड़ लो नहीं तो उनके द्वारा तुड़वाये जाएंगे। आरोप लगाया कि यह कार्यवाही उन भूमाफियाओं के इशारे पर की जा रही है, जो इस भूमि को कब्जाना चाहते हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि इन गरीबों के पास 40 से 50 गज भूमि में मकान बने हुए हैं और इन गरीबों के पास इन मकानों, झोंपड़ियों के अलावा अन्य कोई चल-अचल सम्पत्ति नही है। कहा कि ये गरीब लोग मुख्यमंत्री की स्वामित्व योजना में लाभान्वित होने के पात्र हैं, इसलिए इनके मकानों को ना तोड़ा जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *