1 min read

शासन की योजनाओं से अल्पसंख्यक वंचित न रहें अधिकारी सुनिश्चित करें : छाबड़ा

रायपुर/18 फरवरी 2021। छत्तीसगढ़ राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष महेंद्र छाबड़ा एवं सदस्य हफि़ज खान, सचिव एम.आर. खान ने अपने बलौदाबाजार प्रवास के दौरान जिला कलेक्टर कार्यालय में जिलाधीश की उपस्थिति में शासन द्वारा संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन एवं उन योजनाओं में अल्पसंख्यक समुदाय की भागीदारी की समीक्षा की, बैठक की अध्यक्षता कर रहेे छाबड़ा ने अधिकारियों से कहा कि सरकार की योजनाओं का जमीनी क्रियान्वयन अधिकारियों की सजगता और रुचि पर निर्भर करता है, यदि अधिकारी उदासीनता बरते तो सरकार कितना भी प्रयत्न कर ले योजनाएं फलिभूत नहीं हो पाती।

उन्होंने बैठक में निर्देशित करते हुए कहा कि भूपेश बघेल सरकार संवेदनशील सरकार है जिसका उद्देश्य समाज के कमजोर एवं अंतिम पंक्ति में रहने वालों को मुख्यधारा में लाना है इसलिए सरकार की योजनाओं के सफल क्रियान्वयन में कोई भी कोताही सहन नहीं की जाएगी, बैठक में जिला कलेक्टर जैन एवं सभी विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

समीक्षा बैठक के पश्चात् भाटापारा स्थित माहेश्वरी भवन में अल्पसंख्यक आयोग द्वारा अल्पसंख्यक सेमिनार का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, पाठ्यपुस्तक निगम के अध्यक्ष शैलेष नितिन त्रिवेदी, अध्यक्षता कर रही कसडोल विधायक एवं संसदीय सचिव शकुंतला साहू, कृषक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष सुरेन्द्र शर्मा, भवन एवं कर्मकार मण्डल के सदस्य सतीश अग्रवाल, भाटापारा नगर पालिका अध्यक्ष सुनीता गुप्ता जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हितेन्द्र ठाकुर, पूर्व विधायक भाटापारा चैतराम साहू, छाया विधायक भाटापारा सुनील माहेश्वरी, जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश वर्मा, शहर कांग्रेस अध्यक्ष भाटापारा विनोद अग्रवाल अतिथि के रूप में उपस्थित थे, सेमिनार में विभिन्न अल्पसंख्यक समुदाय के प्रतिनिधियों ने गणमान्य अतिथियों के समक्ष अपनी बात रखी ततपश्चात आयोग द्वारा जिले के शैक्षणिक, सामाजिक एवं आर्थिक विकास में सहयोग करने वाले मुस्लिम, सिक्ख, मसीही, जैन एवं बौद्ध समाज के प्रमुख प्रतिनिधियों का सम्मान किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *