1 min read

प्रधानमंत्री मोदी के कोरोना टीकाकरण को ठेंगा दिखा रहे है छत्तीसगढ़ भाजपा के आला नेता

रायपुर सांसद सुनील सोनी ने दिल्ली में लगवाया कोविशिल्ड और जनता को कोवैक्स लगवाने का बेतुका ज्ञान दे रहे है

रायपुर सांसद सुनील सोनी को पहल कर भाजपा के सभी आला नेताओ को कोवैक्स टीका लगवाना चाहिये

रायपुर/11 मार्च 2021। छत्तीसगढ़ कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एवं सचिव विकास तिवारी ने कोरोना महामारी  के टीकाकरण पर भाजपा नेताओं की ओछी राजनीतिक बयानबाजी पर पलटवार करते हुए कहा कि जहां एक और पूरे विश्व और भारत देश में टीकाकरण प्रारंभ हो चुका है। दिल्ली में लोकसभा एवं राज्यसभा में भी सांसदों का टीकाकरण प्रारंभ हो चुका है।

छत्तीसगढ़ राज्य में भी कोरोनावायरस से लड़ने के लिए टीकाकरण किया जा रहा है और भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व मंत्री वरिष्ठ विधायक बृजमोहन अग्रवाल, अजय चंद्राकर सहित भाजपा के विधायकगण सांसदगण राज्यसभा सांसद सहित आरएसएस के आला नेताओ ने टीकाकरण और कोवैक्स टीके से दूरी बना ली हैं। ये भाजपा के वही नेता है जो कोवैक्स टीका की गुणगान कर रहे थे और कहते थे कि कोवैक्स टीका सुरक्षित है इस टीके को जनता को लगाना चाहिये जबकि आज तक भाजपा के किसी नेता ने भी कोवैक्स नहीं लगवाया है, इससे स्पष्ट है कि भाजपा नेताओं को देश के प्रधानमंत्री और अपने पार्टी के नेता नरेंद्र मोदी पर भरोसा नहीं रह गया है।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि भाजपा के रायपुर सांसद सुनील सोनी को तत्काल अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिये और प्रदेश की जनता से माफी भी मांगना चाहिये क्योंकि उनके द्वारा दो दिन पूर्व  दिल्ली में कोरोना टीका (कोविशिल्ड) लगवाया गया और आज उनके द्वारा यह बयान दिया गया कि राज्य सरकार के वेयरहाउस में रखे कोवैक्स को निजी अस्पतालों को देकर जनता को लगवाना चाहिये कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने पूछा कि अगर कोवैक्स टीका इतना ही सुरक्षित है तो भाजपा सांसद सुनील सोनी ने कोविशिल्ड क्यों लगवाया कोवैक्स क्यो नही और क्या भाजपा।

सांसद सुनील सोनी अपने पार्टी के नेता डॉ रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय, बृजमोहन अग्रवाल,अजय चंद्राकर,शिवरतन शर्मा सहित अन्य पदाधिकारियों को कोवैक्स टीका लगवाने के लिये शिविर लगवायेंगे और नही तो तत्काल रायपुर सांसद सुनील सोनी अपना पद दे इस्तीफा देकर प्रदेश की जनता से माफी मांगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *