1 min read

राजनांदगांव : डोंगरगांव क्षेत्र में पेयजल उपलब्धता के लिए दर्री एनीकट के गेट तत्काल बंद करने के दिए निर्देश

राजनांदगांव 25 मार्च 2021 : कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने डोंगरगांव क्षेत्र में पेयजल की उपलब्धता के लिए शिवनाथ नदी में निर्मित दर्री एनीकट में पानी संग्रहण के लिए एनीकट के गेट तत्काल बंद करने के निर्देश दिए। आवर्धन जल प्रदाय योजना डोंगरगांव के तहत एनीकट में जल एकत्रित कर जल शोधन संयंत्र में पानी की जांच की जा रही है और सप्लाई का कार्य अप्रैल से प्रारंभ किया जाएगा। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने दर्री एनीकट में स्थित इंटेकवेल का निरीक्षण किया। इंटेकवेल में 60 एचपी के 3 पंप लगे हुए हैं। जिसकी सहायता से पाईप लाईन के माध्यम से पानी को मटिया स्थित जल शोधन संयंत्र में पहुंचाया जाएगा।

कलेक्टर वर्मा ने मटिया स्थित जल शोधन संयंत्र का अवलोकन किया। उन्होंने जल शोधन संयंत्र में पानी सप्लाई का कार्य जल्द प्रारंभ करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा इसके प्रारंभ होने से नागरिकों को पानी की उपलब्धता होगी। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के सब इंजीनियर विजय कनेरिया ने बताया कि इस प्लांट की क्षमता 3 एमएलडी है। जिसकी लागत 11 करोड़ 53 लाख रूपए है। आवर्धन जल प्रदाय योजना डोंगरगांव के तहत दो पानी टंकी का निर्माण किया गया है।

इसमें जोन-1 में 1200 किलो लीटर 20 मीटर स्टेजिंग टंकी से मटिया, वेटनरी हॉस्पिटल के पीछे बस्ती, मोंगरा कॉलोनी, बस स्टैण्ड को पानी सप्लाई किया जाएगा। वहीं जोन-2 में 500 किलो लीटर 16 मीटर स्टेजिंग क्षमता की टंकी से करियाटोला, डोंगरगांव, नवागांव रोड को पानी उपलब्ध कराया जाएगा। मटिया स्थित जल शोधन संयंत्र से पानी फिल्टर होकर टंकी तक पहुंचाया जाएगा जिससे लोगों को नल के माध्यम से पानी की उपलब्धता अप्रैल से प्रारंभ हो जाएगा। इस अवसर पर एसडीएम डोंगरगांव हितेष पिस्दा, कार्यपालन अभियंता जल संसाधन एसएल पाण्डेय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी टोपेश्वर वर्मा ने आज डोंगरगांव के तहसील कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने तहसील कार्यालय में ई-कोर्ट के लंबित प्रकरणों का बारिकी से जांच की। कम्प्यूटर में दर्ज ऑनलाईन ई-कोर्ट के लंबित प्रकरणों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि विभिन्न प्रकरणों के दस्तावेज को नियमानुसार व्यवस्थित ढंग से रखें। उन्होंने तहसीलदार, नायब तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक, पटवारी कक्ष, भुईयां शाखा कक्ष का निरीक्षण किया।

भुईयां शाखा कक्ष में पटवारी के ऑनलाईन अपडेशन के कार्यों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सभी पटवारी समय में ऑनलाईन एन्ट्री करें। लंबित प्रकरणों को समय-सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिए। तहसील कार्यालय में स्थित लोक सेवा केन्द्र में बनाए जा रहे आयुष्मान ई-कार्ड का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन लक्ष्य के अनुरूप ई-कार्ड बनाये। आयुष्मान ई-कार्ड बनाने आए हितग्राही कोरोना प्रोटोकॉल तथा मास्क का उपयोग जरूर करें। इस अवसर पर एसडीएम डोंगरगांव हितेष पिस्दा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *