1 min read

1 अप्रैल से रायपुर से बिलासपुर आने पर देना होगा इतना टोल, फास्टैग नहीं होने पर दोगुना कैश

रायपुर : हाल में बनकर तैयार हुई रायपुर-बिलासपुर सिक्सलेन रोड पर 1 अप्रैल से दो जगह टोल टैक्स देना होगा। अभी भोजपुरी टोल चालू है, लेकिन पहली तारीख से उसका शुल्क 5 से 35 रुपए तक बढ़ाया जा रहा है। इसके अलावा, मुड़हीपार (सरगांव) का टोल प्लाजा भी 1 अप्रैल से शुरू किया जा रहा है।

रायपुर से बिलासपुर जाने या आने वालों को दो टोल प्लाजा चालू होने के बाद कार के लिए एक तरफ के 125 (अर्थात जाने-आने पर 250 रुपए) टोल टैक्स देना होगा। बस-ट्रक वालों केे लिए यह टैक्स एक 420 रुपए (जाने-आने के लिए 840 रुपए) होगा। दोनों प्लाजा में स्थायीन लोगों को छूट नहीं है। उन्हें यह सुविधा दी गई है कि जो लोग टोल नाके से 20 किमी दायरे में रहते हैं, उन्हें 285 रुपए का मासिक पास बनाकर दे दिया जाएगा।

नेशनल हाईवे अथारिटी

नेशनल हाईवे अथारिटी (एनएचएआई) ने दो दिन पहले इस आशय की अधिसूचना जारी करते हुए टोल टैक्स का नया रेट भी रिलीज कर दिया है। भोजपुरी टोल प्लाजा 7 फरवरी 2020 को शुरू हुआ था। इसका टैक्स बढ़ाया गया है। अभी इस प्लाजा से गुजरनेवाली कारों को 80 रुपए टोल टैक्स देना पड़ता है। 1 अप्रैल से उन्हें 85 रुपए देने होंगे।

इसी तरह हल्के मालवाहक और मिनी बसों को अभी 125 रुपए देने पड़ रहे हैं। उन्हें 135 रुपए लगेंगे। बस या ट्रक वालों को अब एक बार के 265 के बजाय 285 रुपए देने होंगे।

मुड़हीपार का शुल्क कुछ कम

मुड़हीपार टोल प्लाजा में एक अप्रैल से टोल टैक्स की वसूली शुरू हो जाएगी। एनएचएआई की ओर से जारी दरों के अनुसार यहां से गुजरने पर कारवालों को 40 रुपए देने होंगे। इसी तरह हल्के कर्मशियल वाहन या मिनी बस के लिए 65 रुपए और सामान्य बस-ट्रक के लिए 135 रुपए लगेंगे।
एनएचएआई ने यह भी साफ किया कि दोनों टोल प्लाजा में कैश लेन नहीं होगी। जिनके वाहन में फास्टैग नहीं होगा, उनसे इसी लेन पर डबल कैश लिया जाएगा। वापसी यात्रा व लोकल वाहनों को छूट भी केवल फास्टैग से ही मिलेगी।

source by DB

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *