1 min read

छत्तीसगढ़ : खिदमते खल्क वेलफेयर एंड एजुकेशनल सोसाइटी व रायपुर मुस्लिम मैरिज ब्यूरो की एक नई पहल

छत्तीसगढ़. खिदमते खल्क वेलफेयर एंड एजुकेशनल सोसाइटी व रायपुर मुस्लिम मैरिज ब्यूरो एक नई पहल कर रही है रिश्तों को जोड़ने को लेकर समाज में जो लड़कियां ,लड़के कुंवारे हैं इसी कोशिश को लेकर मुस्लिम मैरिज ब्यूरो पूरे छत्तीसगढ़ में काम कर रही है आज इसकी पहल को लेकर एक परिचय सम्मेलन रायपुर के छोटा मुस्लिम हाल में रखा गया जिसमें समाज के सम्मानित लोग शामिल हुए और इस पहल का जमकर तारीफ़ भी किया.
खिदमते खल्क वेलफेयर एंड एजुकेशनल सोसाइटी व रायपुर मुस्लिम मैरिज ब्यूरो में रिश्तों को जोड़ने को लेकर तंजीम तैयार की गई है। संस्था का एकमात्र उद्देश्य है कि मुस्लिम समाज में सही रिश्तों के बीच मध्यस्थता नहीं होने के कारण रिश्ते जुड़ नहीं पाते हैं, इसी समस्या को दूर करके दो परिवारों के बीच रिश्तों को जोड़ने का काम किया जा सके। संस्था की अध्यक्ष शबाना फरीदी, महासचिव निशात अख्तर, कोषाध्यक्ष मुमताज हुसैन, सदस्य जुबेदा बेगम, भी मौजूद थे मुख्य अथिति के रूप में पसमांदा मुस्लिम समाज मोर्चा के छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष एजाज़ कुरैशी ने शिरकत कर कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए। एजाज कुरैशी ने खिदमत हल्क वेलफेयर एंड एजुकेशन सोसाइटी व रायपुर मुस्लिम मैरिज ब्यूरो मुस्लिम समाज के लिए बहुत अच्छा काम कर रही है इससे छत्तीसगढ़ के सभी लोगों को शादी करने में बहुत ही आसानी होगी छत्तीसगढ़ के एक कोने से दूसरे कोने तक रिश्ता जोड़ने का यह काम बहुत ही सराहनीय है एजाज कुरैशी ने बताया कि रायपुर में प्रदेश मुस्लिम समाज कल्याण सोसाइटी संस्था लगातार कई वर्षों से गरीब लड़कियों की शादी में मदद करना बेवा बहनों के लिए ई-रिक्शा दिलाना समाज में ऐसे और भी कई काम करते आ रही है जिससे कि मुस्लिम समाज में और भी कई काम करने की जरूरत है आखिरी सफर के नाम से समाज में गाड़ी चलाई जा रही है जिससे कि मैयत को घर से कब्रिस्तान तक ले जाया जाता है जो साहिबे निसाब नहीं है उसके लिए सेवा बिल्कुल निशुल्क है जो परिवार कफन दफन के लिए सक्षम नहीं है उसे आखिरी सफर की टीम से निशुल्क कफन दफन का इंतजाम किया जाता है उन्होंने बताया कि मुस्लिम समाज में शिक्षा पर काम करने की बहुत जरूरत है इसलिए हमें सबसे ज्यादा शिक्षा पर ध्यान देना चाहिए एजाज कुरैशी ने बताया कि हम सभी भाई बहनों को नमाज पर पाबंद रहना चाहिए ।
कार्यक्रम के दौरान रायपुर शहर के काफी लोग मुस्लिम हाल में पहुंचकर संस्था में रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया भी की। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में मुफ्ती अख्तर रजा, नोमान अकरम साहब, हाजी हामिद मौदहापारा, रहमतुल्ला खान जिला रायपुर ग्रामीण मंत्री आरंग की पत्नी तबस्सुम खान, हाजी अलीम रजा समेत अन्य की महत्वपूर्ण भूमिका रही। कार्यक्रम में एंकरिंग का जनाब सादिक अली ने अपने जाने पहचाने अंदाज में पेश कर महफिल को रोशन कर दिया। साथ ही कार्यक्रम में ह्यूमन राइट्स संस्था की ओर से अफरोज ख्वाजा भी कार्यक्रम में पहुंचे और संस्था की जमकर तारीफ की उन्होंने कहा कि संस्था बहुत अच्छा काम कर रही है इस संस्था में सभी को मिलकर काम करना चाहिए हमारे समाज के लिए यह बहुत जरूरी था कि एक सही रिश्ता ढूंढने के लिए जो की यह संस्था कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *