1 min read

बदली हवा की दिशा, ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ने लगी ठंड

पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से प्रदेश में हवा की दिशा बदल गई है। इसके चलते हवा में नमी की मात्रा भी अधिक है। मौसम विभाग का कहना है कि इसके प्रभाव से आने वाले पांच दिनों में अधिकतम व न्यूनतम तापमान में विशेष बदलाव नहीं होगा। मंगलवार को प्रदेश में सबसे ठंडा कोरिया रहा, वहां के कृषि विज्ञान केंद्र में न्यूनतम तापमान 12.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि नवंबर के तीसरे सप्ताह से ठंड और ज्यादा बढ़ने वाली है। मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि एक पश्चिमी विक्षोभ पाकिस्तान के ऊपर स्थित है, जिसके पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है। इसके चलते हवा में नमी की मात्रा में वृद्धि की संभावना है। रायपुर का अधिकतम तापमान 33.4 डिग्री और न्यूनतम तापमान 19.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री ज्यादा और न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री ज्यादा रहा।

रात में बढ़ने लगी ठंड

ठंडी हवाओं के आने के कारण देर रात ठंड बढ़ने लगी है। विशेषकर ग्रामीण व आउटर क्षेत्रों में ठंड का प्रभाव ज्यादा है। सुबह ठंडी हवा चलने लगी है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष ज्यादा ठंड पड़ने की उम्मीद है।

जगदलपुर में न्यूनतम तापमान पांच डिग्री ज्यादा

मंगलवार को जगदलपुर में न्यूनतम तापमान 21.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से पांच डिग्री ज्यादा रहा। दुर्ग व राजनांदगांव में न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम रहा। अंबिकापुर में न्यूनतम तापमान सामान्य से ज्यादा रहा।

गर्म कपड़ों के स्टाल शुरू

मोतीबाग, टिकरापारा, संतोषीनगर, आमापारा सहित शहर के विभिन्न क्षेत्रों में इन दिनों गर्म कपड़ों का स्टाल लगने लगे हैं। ग्राहकों को लुभाने के लिए 20 प्रतिशत छूट भी दी जा रही है। वहीं, कपड़ा संस्थानों में भी गर्म कप़ड़ों का स्टाक आना शुरू हो गया है। इस वर्ष कारोबारी सोच-समझकर स्टाक मंगा रहे हैं, क्योंकि पिछले वर्ष ठंड कम पड़ी थी और कारोबार में जबरदस्त गिरावट आई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *