मुर्मु ने चुनाव संचालन में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पुरस्कार प्रदान किये
1 min read

मुर्मु ने चुनाव संचालन में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पुरस्कार प्रदान किये

नयी दिल्ल । राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने गुरुवार को यहां 14वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस समारोह में चुनावों के संचालन में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए राज्य और जिला स्तर के अधिकारियों को वर्ष 2023 के लिए पुरस्कार प्रदान किए। मतदाताओं को जागरूक करने में योगदान देने वाले सरकारी विभागों और मीडिया संगठनों सहित महत्वपूर्ण हितधारकों को भी पुरस्कार प्रदान किए गए। राष्ट्रपति ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा,“ हमारे लोकतंत्र की विशालता और विविधता हमारे लिए गर्व की बात है और इसकी गौरवशाली यात्रा में चुनाव आयोग की अहम भूमिका रही है। उन्होंने कहा कि अब तक चुनाव आयोग द्वारा 17 आम चुनाव और 400 से अधिक विधानसभा चुनाव कराए जा चुके हैं।” उन्होंने निष्पक्ष और समावेशी चुनाव प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए चुनाव आयोग की वर्तमान और पिछली टीमों की सराहना की। श्रीमती मुर्मु ने कहा कि देश की चुनाव प्रक्रिया में बड़े पैमाने पर आधुनिक तकनीक का सफल उपयोग दुनिया के सभी लोकतांत्रिक देशों के लिए एक उदाहरण है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि चुनाव प्रक्रिया से संबंधित सभी गतिविधियों में चुनाव आयोग द्वारा प्रौद्योगिकी के प्रभावी उपयोग को यथासंभव और बढ़ाया जाएगा। राष्ट्रपति ने कहा कि देश के सभी हिस्सों में रहने वाले मतदाताओं के लिए व्यवस्था करना आसान नहीं है, तमाम तरह की चुनौतियों के बावजूद चुनाव आयोग की टीम इस कठिन काम को अंजाम देती है। उन्होंने कहा,“ यह हमारे लोकतंत्र की बहुत बड़ी उपलब्धि है।” उन्होंने उन लोगों के लिए घर पर मतदान की सुविधा प्रदान करने के लिए चुनाव आयोग की सराहना की जो मतदान केंद्रों पर नहीं जा सकते। उन्होंने कहा,“ इन प्रयासों ने हमारे देश की चुनाव प्रक्रिया को और अधिक समावेशी बना दिया है।” श्रीमती मुर्मु ने कहा कि युवा लोकतंत्र के भविष्य के नेता हैं। उन्होंने मतदाता फोटो पहचान पत्र प्राप्त करने वाले युवा मतदाताओं को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह अधिकार मिलने के बाद उनके कर्तव्य भी बढ़ गये हैं।उन्होंने कहा कि उपस्थित युवा मतदाता देश के करोड़ों युवाओं के प्रतिनिधि हैं जो वर्ष 2047 के स्वर्णिम भारत के निर्माण में निर्णायक भूमिका निभाएंगे। मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने राष्ट्रपति को ‘आम चुनाव 2024 के लिए ईसीआई पहल’ की पहली प्रति भेंट की। भारत के चुनाव आयोग के स्थापना दिवस को चिह्नित करने के लिए हर साल 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य नागरिकों के बीच चुनावी जागरूकता पैदा करना और उन्हें चुनावी प्रक्रिया में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करना है। राष्ट्रीय मतदाता दिवस 2024 का विषय ‘वोटिंग जैसा कुछ नहीं, मैं निश्चित रूप से वोट करता हूं’ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *