महासमुंद के श्रमिक चैतराम को मिल रही है पेंशन
1 min read

महासमुंद के श्रमिक चैतराम को मिल रही है पेंशन

मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय एवं श्रम मंत्री के प्रति जताया आभार

रायपुर । प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक पेंशन सहायता योजना के तहत प्रदेश के श्रमिकों को 1500 रूपए प्रतिमाह देने की शुरूआत हो गई है। श्रम मंत्री सह अध्यक्ष छत्तीगसढ़ भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल श्री लखन लाल देवांगन ने महासमुंद के श्रमिक चैतराम से उनके मोबाईल फोन में चर्चा कर इसकी जानकारी ली। श्रमिक चैतराम ने श्रम मंत्री से चर्चा कर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय एवं श्रम मंत्री का आभार प्रकट किया। योजना के तहत पात्र निर्माण श्रमिकों को पेंशन राशि सीधे उनके खाते में हस्तांतरण आज योजना प्रारंभ कर किया गया है। ज्ञात हो कि मंडल द्वारा संचालित ‘‘मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक पेंशन सहायता योजना’’ के तहत् ऐसे पंजीकृत निर्माण श्रमिक जिनकी आयु 60 वर्ष पूर्ण हो चुकी है, उन श्रमिकों को जीवन पर्यन्त प्रतिमाह राशि 1500 रूपए पेंशन दिया जाना प्रावधानित है, अगर ऐसे पेंशनधारी निर्माण श्रमिक जिनकी मृत्यु हो जाती है उन परिस्थिति में निर्माण श्रमिक के आश्रित (पति/पत्नी) को राशि 750 रूपए मासिक पेशन दिये जाने का प्रावधान है। इसी प्रकार निर्माण श्रमिकों के बच्चो हेतु “मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिकों के बच्चों हेतु निःशुल्क कोचिंग सहायता योजना” के तहत् पंजीकृत निर्माण श्रमिक के स्वयं अथवा उनके आश्रित संतानों को व्यापम, पीएससी, रेलवे भर्ती बोर्ड, एसएससी आदि द्वारा आयोजित विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिये योजना का शुभांरभ किया जाकर आज अनुबंध किया गया हैै । अब प्रदेश के किसी भी निर्माण के बच्चो को शिक्षा एवं रोजगार में कमी नही होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *