गांवों में पानी की किल्लत, बोर व कुआं सूखे,ग्रामीण परेशान
1 min read

गांवों में पानी की किल्लत, बोर व कुआं सूखे,ग्रामीण परेशान

कोरबा। एसईसीएल मानिकपुर खदान क्षेत्र के नजदीक के कुछ गांव के अधिकांश बोर कुआं पूरी तरीके से सूख चुका है। निस्तारी के लिए तालाब था, वह भी गर्मी में पूरी तरह से सूख गया है। जिससे जल संकट की स्थिति निर्मित हो रही है। खदान आसपास मोहल्ले वासियों को पेजयल के लिए समस्या गंभीर बनी हुई है। मवेशी सहित अन्य जानवर भी परेशान हो रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कि नल जल योजना के तहत गांव में पानी टंकी बनाया गया है, लेकिन घरों तक पानी ही नहीं पहुंच रहा है। मोहल्ले के रहवासी किसी तरह से अपना जीविकोपार्जन कर रहे हैं। कई स्थानों में टैंकर से पानी आपूर्ति करा रहे हैं, लेकिन यह भी पर्याप्त नहीं है। मोहल्ले में टैंकर पहुंचते ही ग्रामीण महिलाओं की भीड़ उमड़ रही है। लोग पानी के लिए बर्तन लेकर टैंकर के पास पहुंचते हैं, लंबी कतार में खड़े होकर इंतजार करना पड़ रहा है। लेकिन अधिकांश लोगों को पर्यापत पानी नहीं मिल रहा है। इसे लेकर लोगों में आक्रोश है। जल्द पानी व्यवस्था करने की मांग की गई है। ग्रामीण बताते हैं कि खदान से गांव की दूरी 500 मीटर की है। इस भीषण गर्मी में हमें भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। खदान का पानी तलाब में भरवाने से निस्तारी के साथ मवेशियों को भी पीने के लिए पानी उपलब्ध हो जाएगा। इस भीषण गर्मी में बोर व तालाब सुखने की वजह से निस्तारी के लिए काफी दिक्कतें आ रही हैं। खदान के ब्लास्टिंग से घरों में दरार आ गए हैं। घरों में रहना मुश्किल हो रहा है। मोहल्ले में एक टैंकर आता है। इसमें कुछ लोगों को ही पानी मिलता है। खदान नजदीक होने के कारण घर का बोर, कुआं पूरी तरह के सुख गया है। टैंकर से कभी-कभी पानी आपूर्ति की जा रही है। पानी के लिए लंबी दूरी तय करना पड़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *