विक्षिप्त द्वारा पिता को डंडा मारने का बदला लेने के लिए युवक ने अपने दोस्त के साथ मिलकर पीटा
1 min read

विक्षिप्त द्वारा पिता को डंडा मारने का बदला लेने के लिए युवक ने अपने दोस्त के साथ मिलकर पीटा

दुर्ग/भिलाई। नेवई थाना क्षेत्र के लालता प्रसाद चौक स्टेशन मरोदा में दो युवकों ने मानसिक रूप से विक्षिप्त एक व्यक्ति की डंडे से पीट-पीटकर हत्या कर दी। घटना की सूचना मिलते ही नेवई पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की। मृतक से मारपीट की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने दोनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया। नेवई पुलिस हत्या की धारा के तहत कार्रवाई कर रही है। पुलिस ने बताया कि लालता प्रसाद चौक पर मंगलवार की सुबह एक व्यक्ति की लाश मिली। जिसकी पहचान मुक्तानंद यादव (45) के रूप में की गई। जांच में पता चला कि करीब 11 साल से उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। लालता प्रसाद चौक पर ही उसका घर है। जहां उसकी पत्नी अपने एक बेटे और दो बेटियों के साथ रहती थी। वहीं मुक्तानंद खाना खाकर मोहल्ले में कहीं भी सो जाता था। मृतक की पत्नी अपना घर बनवा रही है। सोमवार को मुक्तानंद का फुफेरा भाई धनुष यादव उसके निर्माणाधीन मकान को देखने गया था। वहां से वो रात को करीब आठ बजे वापस लौट रहा था तो मुक्तानंद ने धनुष को डंडे से दो बार मार दिया था। धनुष के बेटे दीपक यादव ने मुक्तानंद को अपने पिता को मारते हुए देख लिया था। जांच में ये भी पता चला कि मानसिक स्थिति ठीक न होने के कारण मुक्तानंद किसी को भी मार देता था या गाली देता रहता था। पिता को मारने से नाराज दीपक यादव (26) ने अपने दोस्त संतोष साहू (24) के साथ मिलकर रात को करीब 10 बजे मुक्तानंद की डंडे से जमकर पिटाई की। डंडे की पिटाई से जब वो बेहोश हो गया तो उसे चौक पर ही एक किनारे सुला दिया और अपने घर चले गए। मंगलवार की सुबह जब लोगों ने देखा तो मुक्तानंद की मौत हो चुकी थी। स्थानीय लोगों ने नेवई पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव का परीक्षण किया तो उसके शरीर पर डंडे से पीटने के निशान मिले। शव को पोस्टमार्टम के लिए चीरघर रवाना किया। वहीं दीपक यादव और संतोष साहू द्वारा मारपीट की जानकारी मिलने पर दोनों आरोपितों को हिरासत में लिया है। नेवई पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *