टी20 विश्वकप के खिताब में बुमराह की भूमिका होगी अहम
1 min read

टी20 विश्वकप के खिताब में बुमराह की भूमिका होगी अहम

न्यूयॉर्क । चोट के कारण लंबे समय तक क्रिकेट के मैदान से बाहर रहे तेज गेंदबाज जसप्रित बुमराह का टी20 विश्वकप में प्रदर्शन भारत के लिये काफी अहम माना जा रहा है। चोट से उबरने के बाद तेज गेंदबाज ने हाल के दिनों में मैदान पर सफल वापसी की है और टी20 विश्व कप के दौरान वह उस लय को बरकरार रखने की उम्मीद कर रहे हैं। अमेरिका और वेस्ट इंडीज में दूसरे आईसीसी पुरुष टी 20 विश्व कप खिताब के लिए भारत की खोज में बुमराह को एक प्रमुख कुंजी के रूप में देखा जा रहा है। पीठ की चोट के कारण बुमराह 2022 और 2023 के बीच काफी समय तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से बाहर रहे। स्टार गेंदबाज ने पिछले साल अगस्त में आयरलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज़ के साथ वापसी की और उसके बाद से पीछे मुड़कर नहीं देखा। आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप 2023 के फाइनल में भारत की ओर से वह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज थे जिन्होंने 18.65 की औसत से 20 विकेट लिए, जबकि उनकी इकॉनोमी केवल चार की थी। बुमराह ने कहा “ जब से मैं अपनी चोट से उबराहूं, मैंने केवल जितना हो सके खेल का आनंद लेने पर ध्यान केंद्रित किया है। मैं खेल को लेकर अनिश्चितता के बजाय प्रक्रिया पर ध्यान केंद्रित करने की कोशिश कर रहा हूं क्योंकि कुछ चीजें मेरे अनुकूल होंगी। कुछ चीजें मेरे अनुकूल नहीं होंगी। ये सभी चीजें मेरी प्रक्रिया का हिस्सा होंगी। मैं अंतिम परिणाम के बजाय उस पर ध्यान केंद्रित करूंगा। उस पहलू में आप अपना दबाव कम करते हैं और खेल का आनंद लेते हैं।” उन्होने कहा “ जब आप उन चीजों पर ध्यान केंद्रित करते हैं जिन्हे आप नियंत्रित नहीं कर सकते,तो परिस्थितियां जटिल हो सकती है। ” बुमराह में अब तक भारत की ओर से 74 टी20 विकेट लिये हैं और वह इस मामले में तीसरे नम्बर पर है। बुमराह की अधिकांश सफलता का श्रेय सटीक यॉर्कर को दिया जा सकता है। उन्होंने बताया कि टेनिस-बॉल क्रिकेट खेलते समय उन्होंने यॉर्कर पर ध्यान केंद्रित किया। उन्होने कहा, “ जब मैं बड़ा हो रहा था तो मैंने टेनिस-बॉल, रबर-बॉल क्रिकेट बहुत खेला। मैं समर कैंप में अपने दोस्तों के साथ खूब खेलता था।जब मैं बच्चा था तो सोचता था कि विकेट हासिल करने का यही एकमात्र तरीका है। बार-बार अभ्यास करने से मुझे इस कौशल को पूर्णता के करीब लाने में मदद मिली है।” 2016 में भारत के लिए डेब्यू करने वाले बुमराह टी20 विश्व कप टीम में सबसे वरिष्ठ तेज गेंदबाज हैं। वह ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या,मोहम्मद सिराज और अर्शदीप सिंह के साथ भारतीय तेज गेंदबाजी का नेतृत्व करेंगे। भारत पुरुष टी20 विश्व कप 2024 के ग्रुप ए में पाकिस्तान, अमेरिका, आयरलैंड, कनाडा के साथ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *