1 min read

प्रशिक्षण पूरा, अब कार्रवाई शुरू

रायपुर: छत्तीसगढ़ प्रशासन अकादमी, निमोरा, छत्तीसगढ़ में कल स्वामी आत्मानंद अंग्रेज़ी माध्यम शालाओं के प्राचार्यों के लिए 10 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. आलोक शुक्ला-प्रमुख सचिव,राहुल वेंकट, संचालक – SCERT, डॉ. योगेश शिवहरे, अतिरिक्त संचालक और डॉ. प्रदीप शुक्ला, छत्तीसगढ़ प्रशासन प्रशिक्षण अकादमी, निमोरा ने की।

अंग्रेज़ी माध्यम शालाओं के प्राचार्यों की टीम ने 10 दिनों के प्रशिक्षण के अपने अनुभव को साझा करते हुए इतने कम समय में व्यापक प्रशिक्षण आयोजन करने के लिए SCERT और स्कूल शिक्षा विभाग को धन्यवाद ज्ञापित किया। टीम ने स्कूल के प्रदर्शन का मूल्यांकन ढांचे के साथ अंग्रेज़ी माध्यम स्कूलों के लिए मिशन एवं वार्षिक अकडेमिक लक्ष्य को भी प्रस्तुत किया। प्राचार्यों की टीम ने राज्य शिक्षा विभाग को वार्षिक अकादमिक कैलेंडर भी प्रस्तुत किया। बच्चों के समग्र विकास का आकलन करने के लिए, टीम द्वारा 360-डिग्री सपोर्ट कार्ड भी साझा किया गया ।

डॉ. आलोक शुक्ला ने प्राचार्यों एवं मेंटर टीम द्वारा इस प्रस्तुति की सराहना की, जिसमें एससीईआरटी के संकाय से योगेश शिवहरे, ललित साहू,संध्यारानी एवं दर्शन और शिक्षा सलाहकार सत्यराज अय्यर एवं यशिका फुलवानी शामिल थे, जिन्होंने पूरे प्रशिक्षण के दौरान टीम को अपार समर्थन और मार्गदर्शन दिया। प्रमुख सचिव- डॉ. आलोक शुक्ला ने प्रस्तुति के तुरंत बाद सभी प्राचार्यों को निर्देश दिया कि वे स्कूल का स्व-मूल्यांकन जल्दी शुरू करें और प्रस्तावित संकेतकों पर स्कूल की वर्तमान स्थिति को 2 महीने के भीतर साझा करें।

डॉ. आलोक शुक्ला ने यह भी बताया कि अब प्राचार्यों के पास अपने शिक्षकों और कर्मचारियों के सहयोग से विद्यार्थियों के लिए एक उत्कृष्ट विद्यालय निर्माण करने में कार्यवाही शुरू करनी होगी। प्रमुख सचिव ने इन अंग्रेज़ी माध्यम स्कूलों को ना सिर्फ़ छत्तीसगढ़ में बल्कि पूरे देश में सर्व-श्रेष्ठ बनाने का लक्ष्य प्राचार्यों के सामने रखा। साथ ही, प्रदेश के हिंदी माध्यम शालाओं को भी उतना ही उत्कृष्ट बनाने का ज़िम्मा दिया गया।

कार्यक्रम का समापन प्रमाण पत्र वितरण के साथ किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *