फ्रांस की सीनेट में ​देश​-विदेश की 35 हस्तियों को मिला भारत गौरव अवार्ड
1 min read

फ्रांस की सीनेट में ​देश​-विदेश की 35 हस्तियों को मिला भारत गौरव अवार्ड

जयपुर । फ्रांस की सीनेट में भारत गौरव अवार्ड समारोह का आयोजन किया गया जिसमें ​देश​-विदेश की 35 नामी हस्तियों को “भारत गौरव अवार्ड” से सम्मानित किया गया। जयपुर के गैर सरकारी संगठन संस्कृति युवा संस्था द्वारा यह अवार्ड समारोह वर्ष 2012 से जारी है और इस अवार्ड समारोह में भारत, ब्रिटेन, अमरीका, न्यूजीलैंड, कनाडा, दक्षिण अफ्रीका, मलेशिया, सिंगापुर, दुबई, लंदन, इटली, स्विट्जरलैंड, स्पेन, जिनेवा, पौलेंड, थाईलैंड, बैंकाक सहित कई देशों के प्रतिनिधि सम्मिलित हुए। संस्कृति युवा संस्था के अनुसार इस अवसर पर समारोह के मुख्य अतिथि राजस्थान के दौसा जिले में स्थित मेहंदीपुर बालाजी के महंत डॉ. नरेश पुरी महाराज ने कहा कि भारतीयों ने पूरे विश्व में भारत का नाम रौशन किया है। जब भारत को आजादी मिली थी तो किसी ने सोचा भी नहीं था कि एक दिन विश्व पटल पर भारतीय इस प्रकार अपनी पहचान बनायेगें। आज सभी क्षेत्रों में भारतीय लोग अग्रणी भूमिका निभा रहे है और पूरे विश्व में भारतीयों की धाक बढ रही है। इससे पहले महंत पुरी महाराज ने हनुमान चालीसा के पाठ के साथ अपना संबोधन प्रारम्भ करते हुए कहा कि हम सबको अपने जीवन में बालाजी का आशीर्वाद लेना चाहिए, तो निश्चित रूप से जीवन में उत्तरोत्तर प्रगति होगी। उन्होंने कहा कि वह जहां भी जाते है तो अपने कार्यक्रम का प्रारम्भ हनुमान चालीसा से करते है और आज पहली बार फ्रांस की सीनेट में हनुमान चालीसा के पाठ बालाजी महाराज के आशीर्वाद से करने का सौभाग्य उन्हें मिला है। इस अवसर पर समारोह में सीनेट में वाइस प्रेसिडेंट डोमिनिक थियोफाईल ने संबोधित करते हुए कहा कि पूरे विश्व में भारतीयों का दबदबा है और हर क्षेत्र में भारतीय कार्य कर रहे हैं। समारोह की अध्यक्षता करते हुये संस्कृति युवा संस्था के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित सुरेश मिश्रा ने कहा कि हमें तय करना है कि हम अपने देश की माटी से इस प्रकार जुड़े रहे की हमारा अपनापन और भारतीयता लगातार आगे बढे। श्री मिश्रा ने कहा कि संस्कृति का यह 11वां आयोजन है और संस्कृति ने जयपुर मैराथन और सामाजिक जन आंदोलन और सामाजिक संचेतना का जो कार्य हाथ में ले रखा है वो लगातार इसी प्रकार आगे बढ़ता रहेगा। उन्होंने कहा कि पेरिस में आकर यह सम्मान समारोह आयोजित करना हम सबके लिये गौरव की बात है। जिन विभूतियों को आज भारत गौरव अवार्ड मिला है उन्हें वह देश के विकास के लिए युवाओं को आगे लाया जाना चाहिए। भारतीय दूतावास के अधिकारी प्रवीण कुमार ने कहा कि अब भारतीय पूरे विश्व में अपनी धाक जमा रहे है। जब भी हम भारतीयों से मिलते है तो अपनापन महसूस करते है। पेरिस की सीनेट में आकर भारत का तिरंगा लहराना अपने आप में बड़ी बात है। इस अवसर पर फिल्म निर्माता एवं निदेशक अन्नू कपूर, यूनाईटेड किंगडम के गुरूजी राजराजेश्वर, माण्ड गायिका बेगम बतूल ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर संस्कृति युवा संस्था के फ्रांस चैप्टर के चैयरमेन अनवर हुसैन एवं संस्कृति युवा संस्था के प्रदेश अध्यक्ष गौरव धामाणी ने बताया कि भारतीय आध्यात्मिक गुरु पद्म भूषण दाजी कमलेश डी पटेल, भारतीय फिल्म डायरेक्टर अन्नू कपूर, पद्मश्री न्यूरोलॉजिस्ट डाॅ. सुधीर शाह, नारी शक्ति पुरस्कार एवं भजन मांड शैली की गायिका बेगम बतूल, संस्कार टीवी के सीईओ मनोज त्यागी, आस्था टीवी चैनल के सीईओ डॉ. सतीश कुमार जैन, यूनाईटेड किंगडम के आध्यात्मिक गुरु एचएच राजराजेश्वर गुरुजी, अयोध्या में राम मंदिर की पोशाक बनाकर चर्चित हुए देश के नामी फैशन डिजाइनर मनीष त्रिपाठी, अयोध्या में भगवान राम की मूर्ति बनाने वाले देश के नामी मूर्तिकार अरुण योगीराज सहित कई प्रसिद्ध लोगों को भारत गौरव अवार्ड से सम्मानित किया गया। समारोह में प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिह्न, गोल्ड मेडल एवं शाॅल देकर इन प्रतिभाओं को भारत गौरव के अलंकरण से सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *